सीएम नीतीश ने किया ऐलान, बिहार के पत्रकार फ्रंटलाइन वर्कर्स की श्रेणी में शामिल

City channel jamui
0



*Wash Your Hands Regularly, Wear Your Masks Properly & Maintain Safe Distance*

सिटी ब्यूरो रिपोर्ट, संवाद : डॉ० निरंजन कुमार 

जमुई : कोरोना की इस जंग में फ्रंटलाइन वर्कर्स ने  सक्रिय भूमिका निभाई है। फिर चाहे वो दिन रात काम करने वाले डॉक्टर हों या फिर सड़कों पर पहरे देने वाले पुलिसकर्मी। इसके अलावा देश के पत्रकारों ने भी मुश्किल समय में लोगों तक लगातार जरूरी जानकारी पहुंचाई है। उनकी तरफ से भी जान जोखिम में डाल कर रिपोर्टिंग की गई है। अब पत्रकारों के इस अच्छे काम को समझा है बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने , जिन्होंने ऐलान कर दिया है कि उनके राज्य में तमाम एक्रीडिएटेड (सरकार से मान्यता प्राप्त) पत्रकारों के साथ जिला जनसंपर्क अधिकारी द्वारा सत्यापित नन एक्रीडिएटेड पत्रकारों (प्रिंट , इलेक्ट्रॉनिक , वेब मीडिया आदि) को प्राथमिकता के आधार पर कोविड - 19 के टीकाकरण हेतु फ्रंटलाइन वर्कर्स की श्रेणी में शामिल किया जाता है।

 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ऐलान के बाद सभी सम्बंधित पत्रकारों को प्राथमिकता के आधार पर कोविड - 19 का टीकाकरण किया जाएगा। 

    उन्होंने इसी संदर्भ में कहा कि कोरोना संक्रमण के दौर में पत्रकारगण अपनी भूमिका  का बेहतर ढंग से निर्वहन कर रहे हैं। वे अपनी क्षमता के अनुरूप कोरोना संक्रमण के खतरों से आमजनों को जागरूक भी कर रहे हैं। इसलिए वे सभी फ्रंट लाइन वर्कर्स के हकदार हैं।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार के तमाम चिंहित पत्रकार अब फ्रंटलाइन वर्कर्स हैं। उन्होंने इस कोरोना काल में बेहतरीन काम किया है। लोगों तक जरूरी खबर पहुंचाई है। पत्रकारों ने कोरोना को लेकर आमजनों को जागरूक भी किया है और इस महायुद्ध में एक सक्रिय भूमिका निभाई है। राज्य सरकार को पत्रकारों को फ्रंट लाइन वर्कर्स का दर्जा देते हुए गर्व हो रहा है।

      विस्तृत जानकारी के लिए मुख्यमंत्री कार्यालय से निर्गत प्रेस विज्ञप्ति संलग्न है :-


      

Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !